Sunday, February 5, 2023
Homeछत्तीसगढ़नियमितीकरण हेतु “अनियमित बइठका” 15 जनवरी को

नियमितीकरण हेतु “अनियमित बइठका” 15 जनवरी को

रायपुर। गोपाल प्रसाद साहू, प्रांतीय संयोजक ने बताया कि छत्तीसगढ़ अनियमित कर्मचारी मोर्चा प्रदेश में कार्यरत अनियमित कर्मचारियों [संविदा, दैनिक वेतन भोगी, कलेक्टर दर, श्रमायुक्त दर पर कार्यरत श्रमिक, प्लेसमेंट, मानदेय, अशंकालिक, जाबदर, ठेका] के नियमितीकरण, नियमितीकरण तक 62/65 वर्ष की जॉब गारंटी, पृथक कर्मचारियों की बहाली, अंशकालीन कर्मचारियों को पूर्णकालीन करने एवं आउटसोर्सिंग/ठेका प्रथा को बंद करने को लेकर दिनांक 15 जनवरी, 2023 को “अनियमित बइठका एवं मिलिए मुख्यमंत्री/पूर्व मुख्यमंत्री” कार्यक्रम राजधानी के धरना स्थल बुढापारा रायपुर में आयोजित कर रहा है| इस बइठका में माननीय मुख्यमंत्री/पूर्व मुख्यमंत्री को सम्मिलित होने आमंत्रित किया गया है तथा प्रदेश भर से 50 हजार से अधिक अनियमित कर्मचारी सम्मिलित होकर अपनी मांगों को सरकार के समक्ष मजबूती से रखेंगे|
उल्लेखनीय है कि; कांग्रेस ने सरकार बनने पर 10 दिवस में प्राथमिकता से हमारी मांगों को पूरा करने का वादा किया एवं अपने जन-घोषणा (वचन) पत्र “दूर दृष्टि, पक्का इरादा, कांग्रेस करेगी पूरा वादा” के बिंदु क्रमांक 11 एवं 30 में अनियमित कर्मचारियों के नियमितीकरण करने, छटनी न करने तथा आउट सोर्सिंग बंद करने को रखा| दिनांक 14.02.2019 को अनियमित मंच से मुख्यमंत्री ने स्वयं घोषणा किये कि इस वर्ष किसानों के लिए है आगामी वर्ष कर्मचारियों का होगा|
श्री प्रेम प्रकाश गजेन्द्र प्रांतीय सह-संयोजक छत्तीसगढ़ अनियमित कर्मचारी मोर्चा ने बताया की उक्त वचन से हम काफी आशान्वित थे परन्तु वादा एवं घोषणा के विपरीत अनियमित कर्मचारियों की निरंतर छटनी की जा रही है एवं विगत 3 वर्षों से संविदा वेतन एवं 5 वर्षों से न्यूनतम वेतन में बढ़ोत्तरी नहीं की गई| मुख्यमंत्री से मिलने अनेक बार अनुरोध पत्र मुख्यमंत्री कार्यालय को प्रेषित किया गया, परन्तु मिलने हमें समय नहीं दिया गया| इससे अनियमित कर्मचारियों में असंतोष एवं आक्रोश व्याप्त है|

Most Popular

- Advertisment -spot_img