Wednesday, November 30, 2022
Homeछत्तीसगढ़दिल्ली जैसे आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को वेतन दे छग सरकार-मुन्ना बिसेन

दिल्ली जैसे आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को वेतन दे छग सरकार-मुन्ना बिसेन

आम आदमी पार्टी ने बूढ़ा तालाब धरना स्थल पर जाकर आंदोलन को समर्थन दिया।

रायपुर ,9 जुलाई 2022। आम आदमी पार्टी के प्रतिनिधि मंडल ने बूढ़ा तालाब धरना स्थल पर जाकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका यूनियन (सीटू) तथा जुझारू आंगनबाड़ी कार्यकर्ता-सहायिका कल्याण संघ को समर्थन दिया । इन संघों द्वारा तीन दिनी हड़ताल के संयुक्त आह्वान के कारण आज दूसरे दिन भी प्रदेश की आंगनबाड़ियां ठप्प रही और अधिकांश केंद्रों पर ताले लगे रहे।इस हड़ताल में एक लाख से ज्यादा कार्यकर्ता और सहायिकाएं शामिल हैं। यह हड़ताल कलेक्टर दर पर मजदूरी देने, सेवा निवृत्ति पर एकमुश्त कार्यकर्ताओं को पांच लाख तथा सहायिका को तीन लाख रुपये देने, पदोन्नति के जरिये कार्यकर्ताओं के सभी पद सहायिकाओं से तथा सुपरवाइजरों के सभी पद कार्यकर्ताओं से भरने, बाल विकास के अलावा अन्य कार्य करवाने पर रोक लगाने आदि मांगों पर आयोजित की जा रही है।आज भी रायपुर में दस हजार से ज्यादा कार्यकताओं ने धरना दिया।

इस धरना को आम आदमी पार्टी के मुन्ना बिसेन ने भी आज मंच साझा कर संबोधित किया तथा मजदूर-किसानों की एकता को हर आंदोलन की जीत की कुंजी बताया। उन्होंने आरोप लगाया कि असंगठित मजदूरों की मांगों के प्रति सरकार का रवैया पूरी तरह से मनुवादी है और जहां वह महिला और बाल विकास के कार्यों से जुड़े काम को समाज सेवा बताती है, वही इस देश में जो मुनाफा पैदा हो रहा है, उसे कॉरपोरेटों द्वारा हड़पने का रास्ता खोलती है। सरकार की इन्हीं कॉरपोरेट परस्त नीतियों के कारण आज देश में आर्थिक असमानता बढ़ रही है और देश की जनता कंगाली का शिकार हो रही है।

मुन्ना बिसेन ने कहा कि जो सरकार अपने चुनावी वादे को पूरा करने के लिए तैयार नहीं है, उसे सत्ता में बने रहने का कोई हक नहीं है।

इस धरने को आज प्रदेश प्रवक्ता मुन्ना बिसेन आदि ने भी संबोधित किया तथा कहा कि यदि आंगनबाड़ी बहनों की जायज मांगों पर सरकार अब भी ध्यान नहीं देती और दमन करेगी, तो उसे हमारे और बड़े शांतिपूर्ण आंदोलन के जरिये जवाब दिया जाएगा। यह शर्म की बात है कि देश की आजादी के अमृत महोत्सव में इस देश के मजदूर न्यूनतम वेतन तक से वंचित है। लेकिन जिस प्रकार किसानों के आंदोलनों के सामने सरकार को झुकना पड़ा है, उसी प्रकार आंगनबाड़ी बहनों के सामने भी झुकना पड़ेगा। हड़ताल के तीसरे दिन पूरे प्रदेश की कार्यकर्ता-सहायिकाओं का जमावड़ा रायपुर में होगा और और वे अपनी बंधुआ मजदूरी के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करेगी। उन्होंने बताया कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाओं का देशव्यापी चार दिनी धरना 26-29 जुलाई को दिल्ली में आयोजित किया जा रहा है, जिसमें छत्तीसगढ़ से हजारों कार्यकर्ता शामिल होंगी।

आम आदमी पार्टी आंगन बाड़ी कार्यकर्ताओं की लड़ाई में कंधे से कंधा मिलाकर पूरे प्रदेश में आंदोलन को समर्थन देगी और मांगे पूरी होने तक सहयोग करेगी।
आम आदमी पार्टी की ओर से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की मांगों को समर्थन देने आकांक्षा सिंह प्रदेश संगठन सचिव, गोपाल साहू प्रदेश संगठन सचिव,मुन्ना बिसेन प्रदेश प्रवक्ता, पलविंदर सिंग पन्नू रायपुर शहर अध्यक्ष,सागर क्षिरसागर ,मलोक सिंग, बलजीत सिंग, शंकर सिंह, मिहिर कुर्मी,वीरेंद्र पवार, पवन सक्सेना, नरेंद्र ठाकुर, विनोद चंद्राकर, महेंद्र बिसेन, कलावती मार्को, राजाराम सिन्हा आदि पहुंचे।

- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
spot_img
spot_img