Wednesday, November 30, 2022
Homeछत्तीसगढ़छठ महापर्व आयोजन समिति ने की महादेव घाट की सफाई

छठ महापर्व आयोजन समिति ने की महादेव घाट की सफाई

रायपुर, अक्टूबर 26, 2022: छठ महापर्व आयोजन समिति महादेव घाट रायपुर के सदस्यों ने आयोजन प्रमुख श्री राजेश कुमार सिंह के नेतृत्व में दिनांक 26 अक्टूबर बुधवार सुबह को खारुन नदी एवं महादेव घाट की सफाई की। समिति के सदस्य आज सुबह 6 बजे महादेव घाट पहुंचे और अपना श्रम दान कर खारुन नदी के किनारे घाट की सफाई की। बड़ी मात्रा कचड़े खारुन नदी से कचड़े निकाले और घाट की सफाई की।
रायपुर नगर निगम के एम आई सी सदस्य नागभूषण राव, कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता आर पी सिंह, छत्तीसगढ़ के प्रसिद्ध लोकगायक दिलीप षडंगी, समिति के सदस्य रविन्द्र सिंह, सुनील सिंह, शशि सिंह, सत्येंद्र सिंह गौतम, परमानन्द सिंह, कन्हैया सिंह, रामविलास सिंह, जयंत सिंह, बृजेश सिंह, अमरजीत सिंह, संतोष सिंह, जयप्रकाश सिंह, मुकुल श्रीवास्तव, चंद्रशेखर सिंह, सरोज सिंह, अजय शर्मा, संजय सिंह, वेद नारायण ,अनिल सिंह, मदन विश्वकर्मा, संजय तिवारी, संजीव सिंह, राकेश सिंह, एवं अन्य सदस्यों ने अपना श्रम दान दिया और घाट की सफाई की।
छठ महापर्व आयोजन समिति महादेव घाट रायपुर के प्रमुख श्री राजेश कुमार सिंह ने बताया कि छठ पूजा की तैयारी महादेव घाट पर जोरों से चल रही है। महादेव घाट को छठ व्रतियों के लिए पूरी तरह से सजाया जा रहा है। समिति के सदस्य महादेव घाट की सफाई कर रहे हैं। समिति के सदस्य अक्टूबर 27, गुरुवार को 6 बजे प्रातःकाल फिर से एकत्रित होकर घाट की सफाई करेंगे।


राजेश कुमार सिंह ने आगे बताया कि चार दिवसीय छठ महापर्व 28 अक्टूबर को नहाय खाय के साथ प्रारंभ होगी। इस वर्ष अक्टूबर 28 से 31 तक पूरे भारत सहित विश्व में छठ महापर्व हर्षोल्लास एवं परम्परा के साथ मनाया जायेगा । राजेश कुमार सिंह ने आगे बताया कि छठ महापर्व उत्तर भारतीय समाज का एक महत्वपूर्ण पर्व है जो इस वर्ष 28 अक्टूबर से प्रारम्भ होगी और अक्टूबर 31 को समाप्त होगी। जिसे सूर्य भगवान को भोग लगाया जाता है। लोगों के द्वारा समूहों में सड़क एवं घाटों की सफाई की जाती है। हमारी मान्यताओं के अनुसार छठि मैय्या विश्व की सबसे बड़ी स्वच्छता की ब्रांड एम्बेसडर है। इस वर्ष नहाय-खाय 28 अक्टूबर को मनाया जायेगा। लोहंडा एवं खरना 29 अक्टूबर को होगा, संध्या अर्घ्य 30 अक्टूबर को होगा और उषा अर्घ्य 31 अक्टूबर को होगा।

- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
spot_img
spot_img