Saturday, December 10, 2022
Homeछत्तीसगढ़अमीर हाशमी की 'जोहार गांधी' का मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया विमोचन

अमीर हाशमी की ‘जोहार गांधी’ का मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया विमोचन

रायपुर। गांधी जयंती दिवस पर छत्तीसगढ़ राज्य के मूल स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों और महात्मा गांधी की छत्तीसगढ़ यात्रा पर केंद्रित अमीर हाशमी की पुस्तक ‘जोहार गांधी’ का शहीद स्मारक भवन, रायपुर में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक भव्य आयोजन के साथ विमोचन किया।
भारतीय स्वतन्त्रता आन्दोलन के दौरान राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी ने 1920 और 1933 में छत्तीसगढ़ का दौरा किया था। छत्तीसगढ़ के साहित्य इतिहास में ‘जोहार गांधी’ अपनी तरह की पहली पुस्तक हैं, जिसमें गांधी जी की इन यात्राओं का सम्पूर्ण घटनाक्रम व छत्तीसगढ़ के सम्पूर्ण स्वतंत्रता संग्राम का इतिहास अर्थात 1774 से 1947 तक की एक-एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम को समयसंगत रूप से प्रस्तुत किया गया है जो छत्तीसगढ़ मूल के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों पर केंद्रित हैं, साथ ही इस पुस्तक में महिला स्वतंत्रता सेनानी तथा आदी-विद्रोह के आदिवासी जननायकों की सम्पूर्ण गाथा हैं।

तीन वर्ष और हज़ारों कि.मी. की यात्रा के बाद पूर्ण हुई पुस्तक


राष्ट्रीय फ़िल्म पुरूस्कार से सम्मानित अमीर हाशमी ने लगभग तीन वर्षों तक इस विषय में छत्तीसगढ़ राज्य के कोने-कोने का दौरा किया जिसमें उन्होंने स्वतंत्रता सेनानियों के घर-घर जाकर उनके परिवारों से साक्षत्कार किये व देश भर की लाइब्रेरी में उपलब्ध आधिकारिक पुस्तकों व लेखों के माध्यम से शोध किया और एक डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म कि शुरूआत की, साथ ही इसे लिखने भी लगे जो अब एक पुस्तक के रूप में प्रस्तुत की गई हैं।

प्रतिभागी परीक्षाओं के लिए उपयोगी और रोमांच से भरपूर


अमीर हाशमी के अनुसार यह पुस्तक नॉवेल पढ़ने वालों को अपनी स्टोरीटेलिंग से रोमांचित तो करेगी ही, साथ ही बहुत आसान भाषा में होने की वजह से सभी आयुवर्ग के लोगों को समझ आ सकेगी, चूंकि इसमें छत्तीसगढ़ के सम्पूर्ण स्वतंत्रता संग्राम का इतिहास एक जगह पर संकलित हैं, यह किताब यू.पी.एस.सी., पी.एस.सी., व अन्य छत्तीसगढ़ से जुड़ी हुई प्रतिभागी परीक्षाओं के लिए भी बहुत लाभकारी साबित होगी। यह पुस्तक अमेज़न वेबसाइट पर ऑनलाईन ऑर्डर के लिए भी उपलब्ध हो चुकी हैं।

अमीर हाशमी अपने बहुमुखी हुनर, मेगा-इवेंट्स और सोशल इनिशिएटिव के लिए जाने जाते हैं, वह अपनी कला से छत्तीसगढ़ का नाम बारम्बार रौशन करते आये हैं। बतौर फ़िल्म कलाकार अपनी पहली ही डेब्यू शॉर्ट फ़िल्म ‘मिरर’ के लिए अमीर राष्ट्रीय फ़िल्म पुरूस्कार से सम्मानित हुए, एक अन्य लघु फ़िल्म ‘खंडहर’ अंतराष्ट्रीय स्तर पर पर ऑफिशियल सेलेक्शन से पहुँची और लंदन के मशहूर पाईन फिल्म्स स्टूडियों में फ़िल्म की स्क्रीनिंग भी हुई। हाशमी अपनी ग्लैमर की दुनियाँ से इतर नदी सुरक्षा अभियान ‘बोलती नदी’ के ब्रांड अम्बेसडर के तौर पर भी 2016 से सक्रिय रहें हैं, और छत्तीसगढ़ में जल संबंधी विकास पर बी.आर.एल.एफ., प्रदान, यस बैंक फॉउंडेशन, एक्सिस बैंक फाउंडेशन, एग्रोक्रेट्स सोसाइटी फॉर रूरल डेवलेपमेंट जैसी देश की दिग्गज़ ऑर्गेनाइजेशन की डॉक्यूमेंट्री फिल्में करते आये हैं, जिनकी स्क्रीनिंग्स देश भर में होती रहती हैं, जिनसे लाखों लोग जल सम्वर्धन के लिए निरंतर प्रेरित हो रहें हैं।

- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
spot_img
spot_img