Saturday, December 10, 2022
Homeछत्तीसगढ़घरघोडा एसडीएम डिगेश पटेल के ट्रांसफर को रोकने एसडीएम कार्यलय पहुंचे लोग...

घरघोडा एसडीएम डिगेश पटेल के ट्रांसफर को रोकने एसडीएम कार्यलय पहुंचे लोग , कलेक्टर से रोकने की अपील …. सौपा ज्ञापन

अनुविभागीय अधिकारी के स्थानांतरण बाद बहुचर्चित महाजेंको भ्रष्टाचार की निष्पक्ष जांच को लेकर घरघोड़ा अंचल के ग्रामीणों ने जताया संदेह

रायगढ़। मध्य प्रदेश राज्य के सन 1991 के समय रायगढ़ जिले में एक कलेक्टर हर्ष मंदर ज़ी आये थे जो जनता के बीच काफी लोकप्रिय रहे 11 माह बाद उनका स्थानांतरण रायगढ़ से भोपाल हुआ जिसकी सूचना आग की तरह सारंगढ़ से जशपुर तक पहुंच गई लोग सड़क पर आ गये सुबह होते ही लोग रायगढ़ पहुंच कर रेल रोको आंदोलन चालू हो गया और आंदोलन आग की तरह फैलने लगा आखिरकार हर्षमंदर को रेलवे स्टेशन पहुंच कर लोगों को समझाया गया तब कहीं लोग शांत हुए इसका मूल कारण उनकी सहजता विनम्रता लोगों के प्रति ईमानदारी ही लोगों उनके प्रति सड़क में लड़ने के लिए वहीं बात डिगेश पटेल अनुविभागीय अधिकारी घरघोड़ा जों जून 2022 अनुविभागीय अधिकारी घरघोड़ा के पद पर नियुक्त किया गया विगत तीन माह के अंदर डिगेश पटेल अनुविभागीय अधिकारी घरघोड़ा आम जनता के दिलों ऐसी बनाई कि जैसे ही लोगों को पता चला कि तीन माह के अंदर उनका स्थानांतरण घरघोडा से धरमजयगढ़ हों गया लोग विधायक से पहले बात किया इसके बाद गांव गांव में बैठकर निर्णय लिया गया की 30/09/2022 को इसके बिरोध ज्ञापन सौंपकर अनुविभागीय अधिकारी घरघोड़ा का तत्काल प्रभाव से स्थानांतरण निरस्त किया जाए लोगों से बात करने पर पता चला की लोगों को उन्होंने किसी भी समस्याओं का समाधान किया कभी भी समस्या फ़ोन पर बोलने पर किसी भी समस्याओं करते हैं!

बहरहाल आम जनता की समस्याओं के समाधान में सदैव तत्पर रहने वाले डिगेश पटेल अनुविभागीय अधिकारी घरघोड़ा के द्वारा जिला कलेक्टर के आदेश पर बहुचर्चित महाजेनको भ्रष्टाचार की जांच किया जा रहा था तथा उनके नैतिक आचरण से लोगों में न्याय की उम्मीद जगी थी! अब यह देखना लाजिमी होगा कि स्थानांतरण के बाद लोगों की ज्ञापन का प्रशासन पर क्या असर होता है एवं घरघोड़ा क्षेत्र के बहुचर्चित मामला महाजेनको की जांच कब पूरी होगी तथा क्या निष्कर्ष सामने आएगा!!

- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
spot_img
spot_img