Thursday, December 8, 2022
Homeछत्तीसगढ़पंडित प्रदीप मिश्रा सुनाएंगे शिवमहापुराण कथा 

पंडित प्रदीप मिश्रा सुनाएंगे शिवमहापुराण कथा 

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में अंतरराष्ट्रीय कथा वाचक पं. प्रदीप मिश्रा (सीहोर वाले) का श्री चम्पेश्वर शिवमहापुराण कथा का भव्य आयोजन दही हांडी मैदान, हनुमान मंदिर, श्रीनगर रोड, गुढ़ियारी, रायपुर में होने जा रहा है जिसमें छत्तीसगढ़ ही नहीं अपितु देश भर के कोने-कोने से लाखों की संख्या में श्रद्धालु शिव भक्त एकत्रित होंगे।

पं. प्रदीप मिश्रा जी का 8 नवम्बर 2022 को माना विमानतल पर आगमन पश्चात् भव्य स्वागत सत्कार कर अभिनंदन किया जाएगा। तत्पश्चात संध्या 5 बजे से गुढ़ियारी स्थित भारत माता चौक से भव्य शोभायात्रा निकाली जायेगी जो शुक्रवारी बाजार से गुढ़ियारी पड़ाव होते हुए कथा स्थल में समापन होगा।

यह आयोजन रायपुर ही नहीं अपितु पुरे छत्तीसगढ़ के आज तक के धार्मिक आयोजनों में सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन होने जा रहा है। श्री चम्पेश्वर शिवमहापुराण कथा के मुख्य आयोजक श्रीमती माधुरी लख्खीप्रसाद अग्रवाल, श्रीमती अनीता चंदन अग्रवाल, श्रीमती रीतू बसंत अग्रवाल एवं समस्त बेरलिया परिवार, थानखम्हरिया वाले हैं। जिन्होने पुरे तन-मन-धन से हजारों की संख्या में समिति का गठन कर इस कार्य को सम्पादित करने का बीड़ा उठाया है । अतिविशिष्ट अतिथि, बुजुर्गों व महिलाओं के बैठने की समुचित व्यवस्था की गई है। इस आयोजन को सभी जाति, धर्म संगठन, समुदाय का व्यापक समर्थन मिल रहा है। खास कर महिला वर्गों का विशेष रूप से योगदान मिल रहा है। ऐसे अन्तरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त पं. प्रदीप मिश्रा जी के द्वारा जो घर घर में पूजा करने की पद्धति व किसी भी प्रकार से गंभीर से गंभीर बीमारियों का भी ईलाज का उपाय बेल पत्र व एक लोटा जल से करने की विधि उनके द्वारा बताई जाती है। हर समस्या का हल एक लोटा जल से कारगर एवं फलीभूत सिद्ध हो रहा है। जिनके सफल प्रयोग से वे भारत के सर्वाधिक लोकप्रिय व श्रद्धेव व्यक्तित्व के रूप में चहुंओर पूजित है।

पं. प्रदीप मिश्रा जी की कथा का रसपान करने के बाद पुरे देश एवं विदेश के सभी शिवालयों सुबह से शाम तक शिव भक्तों का मेला सा लगा रहता है। ऐसे अद्भूत धार्मिक आयोजनों से सम्पूर्ण देश एवं विदेश में हिन्दु सनातन धर्म के प्रति लोगों की आस्था और आकर्षण दिन ब दिन में बढ़ने लगा है।

गुढ़ियारी में होने वाले इस आयोजन के मुख्य यजमान बसंत अग्रवाल एवं उनकी पूरी टीम जो की इस आयोजन के लिए लगातार दो महिने से मैदानी तैयारीयों में लगे हुए हैं। इस आयोजन में नागपुर के कर्मा डेकोरेशन जिनके प्रोपराईटर नरेन्द्र साहू है के द्वारा लगभग 5 लाख वर्ग फीट में विशाल पंडाल एवं 10 हजार वर्ग फीट में कंट्रोल 8 मुख्य द्वार का निर्माण किया गया है। मंच पर विश्व प्रसिद्ध डोंगरगढ़ स्थित माँ बमलेश्वरी की रुम व कार्यालय एवं कथा स्थल में प्रवेश के लिए मंदिर की आकृति का निर्माण किया जा रहा है। तथा पंडाल के बाहरी दिवारों को लोक शिल्प से एवं लोक ग्राम के थीम पर सजाया गया है।

अलग समितियों का गठन कर आयोजन समिति के द्वारा महिला एवं पुरुषों की अलग सबको अलग-अलग जिम्मेदारी बांट दी गई। बाहर से आने वाले श्रद्धालु भक्तों की हर प्रकार की सुरक्षा एवं सुविधा के लिए डॉक्टरों की टीम के साथ में 50 मेडीकल स्टॉफ व स्वयं सेवकों की पूरी
टीम भी लगी हुई है व अलग-अलग जगहों पर जैसे डब्ल्यू.आर.एस. रावण मैदान, 40 एकड़ कोटा विद्यापीठ के सामने एवं अन्य कई छोटे बड़े जगहों पर दो पहिया वाहन एवं चार पहिया वाहन जीप, कार, बस के लिए निःशुल्क पार्किंग व्यवस्था 60-70 एकड़ों में एवं पार्किंग स्थल से कथा स्थल आने व जाने के लिए निःशुल्क ई-रिक्शा (बैटरी चलित वाहन) की व्यवस्था की गई है।
पुरे कथा स्थल को सुरक्षा की दृष्टि से सी.सी.टी.वी. कैमरा की निगरानी में रखा गया है महिला- पुरुष शौचालय, स्नानागार एवं बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं की आवास व भोजन की निःशुल्क व्यवस्था मुख्य यजमान बसंत अग्रवाल व आयोजन समिति के द्वारा की गई है। इस सम्पूर्ण आयोजन को भव्यता प्रदान करने के लिए आयोजन में मच्छी तालाब गुढ़ियारी स्थित हनुमान मंदिर का एवं सभी राजनीतिक दल, सभी सामाजिक संगठन, शासन, प्रशासन, रेलवे विभाग, नगर निगम, स्वास्थ्य विभाग, अग्नि शमन विभाग, विद्युत विभाग व क्षेत्र के
जनप्रतिनिधियों, सांसद, मंत्रीगण, विधायक, महापौर एवं स्थानीय पार्षदों का सहयोग व समर्थन मिल रहा है।
‘आयोजन समिति आप सभी श्रद्धालु शिवभक्तों को श्रद्धा पूर्वक सादर आमंत्रित करते हैं इस श्री चम्पेश्वर शिवमहापुराण कथा का श्रवण लाभ लेने व इस ज्ञान गंगा का रसपान कर पुण्य के भागी बन जीवन को सफल बनावें ।

- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
spot_img
spot_img