Saturday, February 4, 2023
Homeछत्तीसगढ़राजधानी में नशेड़ियों का आतंक ,पुलिस प्रशासन पूरी तरह नाकाम, सरकार कानून...

राजधानी में नशेड़ियों का आतंक ,पुलिस प्रशासन पूरी तरह नाकाम, सरकार कानून व्यवस्था संभालने में विफल

रायपुर। रायपुर में अपराधी प्रवृत्ति के लोगों के हौसले इतने बुलंद हैं की वे शहर में बेखौफ होकर अवैध वसूली,मारपीट जैसे वारदातों को सरेआम कर रहे है…इसी प्रकार का एक मामला डी.डी नगर थाना क्षेत्र से है…घटना 28 नवंबर सोमवार रात की है..राजेश कुमार सरकार,पिता:–सुनील सरकार, उम्र 24 वर्ष, पता साई मंदिर के पास, डंगनिया रायपुर की है..राजेश बस्तर से हैं व वर्षों से डंगनिया रायपुर में किराए के मकान में निवासरत है एवम् वर्तमान में विधि के पंचम सेमेस्टर के छात्र है। राजेश रात्रि भोजन के पश्चात करीब 10:30 बजे टहलने निकला था तब दुर्गेश यादव नामक युवक जो कि आदतन अपराधी है व कुछ दिनों पहले ही जेल से बाहर आया है,उसने गांजा पीने के नाम से राजेश से 200रू. की मांग की व उसको गांजा खरीदने के लिए साथ चलने को कहां राजेश पर दबाव बनाने के लिए गाली गलौच करते हुए उसे दो थप्पड़ मार दिया और कहा कि मुझे गांजा पीना है तू मुझे पैसा दे,राजेश द्वारा उसे पैसे नही है कहने पर वह जान से मार देने की धमकी देते हुए पत्थर उठाने लगा और लात घूसे से मारपीट करने लगा,मोहल्ले वासी किसी तरह राजेश को बचाएं एवं तत्काल 112 में कॉल किया गया व 112 के आने पर उसे पकड़ लिया गया जिस दौरान वह पुलिसवालों की गाड़ी में तोड़फोड़ करते हुए उनको धक्का देकर मौके से भाग गया। इसके बाद अपने शिकायत के लिए राजेश द्वारा डी.डी नगर थाने में रात्रि में ही अपने परिचितों के साथ जाकर एक लिखित शिकायत दिया गया गया, जिसमें उन्होंने पुलिस को बताया कि उनके साथ दुर्गेश यादव ने गाली–गलौच करते हुए उनके साथ लात–घूसे मुक्के से मारपीट की एवम् बड़े पत्थर से मारने की कोशिश की तथा जान से मारने की धमकी दी गई है।


दुर्गेश इतना बेखौफ था कि जब राजेश व उनके परिचित थाने में शिकायत करने के बाद जब राजेश को घर छोड़ने आये तब वहां दुर्गेश यादव अपने 18-20 साथियों के साथ चाकू ,डंडे व लोहे की रॉड लिए इन्तेजार में खड़े था व जैसे ही राजेश घर पास पहुंचा,उन लोगो द्वारा राजेश व उनके परिचितों पर हमला कर दिया, जिससे राजेश के सिर व पूरे बदन व जांघो में गंभीर चोटें आईं है व नाक से अत्यधिक खून बहने लगा जिसके बाद अपनी जान बचा कर किसी तरह छुप गया ,सूचना के बाद पुलिस दोबारा आई व राजेश को एम्स लेकर गई जहा उपचार के लिए रातभर एडमिट रखा गया, पुनः राजेश ने थाने में F.I.R दर्ज करवाया है..दुर्गेश यादव बेखौफ घूम रहा है,लेकिन पुलिस अभी तक उसे गिरफ्तार नहीं कर पाई हैं। राजेश ने एस.पी रायपुर एवम् सी.एस.पी से आवेदन के जरिए सुरक्षा की मांग की है।

Most Popular

- Advertisment -spot_img