Thursday, December 1, 2022
Homeप्रमुख खबरेंग्राम हिनौती की गौशाला संचालन में हो रहा फर्जीवाड़ा,पंचायत सचिव से मांगी...

ग्राम हिनौती की गौशाला संचालन में हो रहा फर्जीवाड़ा,पंचायत सचिव से मांगी गई रिश्वत

रीवा। खबर मध्य प्रदेश के रीवा जिले से है जहां जिले के गंगेव जनपद पंचायत अंतर्गत संचालित गौशाला जो ग्राम पंचायत द्वारा संचालित कराई जा रही है उसमें फर्जीवाड़ा होने का मामला प्रकाश में आया है। बताया गया है कि उपसंचालक पशु चिकित्सा विभाग एवं जिला पंचायत कार्यालय के अधिकारियों द्वारा फर्जी तरीके से निलंबित सचिव हीरालाल के हस्ताक्षर करवाकर गौशाला का संचालन कागजों पर करवाया जा रहा है जबकि यहां नजदीक के गांव के श्रमिक भी यही बताते हैं कि वह पंचायत के माध्यम से कार्य कर रहे हैं।

पशु चिकित्सा विभाग के अधिकारियों और जिला पंचायत के अधिकारियों की सरपरस्ती में गौशाला संचालन का कार्य कागजों पर किसी गंगेव की एग्रो फार्मा लिमिटेड कंपनी को दे दिया गया है। जिसका संचालन शिवचरण तिवारी नामक व्यक्ति कर रहे हैं जिनके द्वारा ग्राम पंचायत हिनौती के सरपंच और सचिव को फ़ोन कर लगभग पौने दो लाख राशि जिला सीईओ के माध्यम से स्वीकृत करवा लिए हैं जो उनको चाहिए और अब स्वीकृत राशि सचिव उनको दे दे। इस मामले में सरपंच और सचिव ने वीडियो जारी कर जानकारी दी है तो वहीं समाजसेवी शिवानंद द्विवेदी ने गौशाला संचालन में हुए फर्जीवाड़ा की निष्पक्ष जांच कर आरोपियों के विरुद्ध कार्यवाही किए जाने की मांग की है।

ग्राम पंचायत हिनौती के सरपंच भारत साकेत और सचिव प्रकाश उपाध्याय

सबसे बड़ी बात यह है कि मई जून 2022 से गौशाला संचालन का कॉन्ट्रैक्ट एग्रोफार्मा कंपनी लिमिटेड को दिया गया लेकिन गौरतलब है कि मई से लेकर जुलाई अंत तक गौशाला में एक भी मवेशी नहीं थे क्योंकि इस समय खेती किसानी का काम न होने से मवेशी ऐरा छोड़ दिए जाते हैं। तो सवाल यह भी है कि जिस समय अंतराल के लिए पौने दो लाख रुपये की राशि शिवचरण तिवारी संचालक एग्रोफार्मा कंपनी लिमिटेड गंगेव के द्वारा प्रभारी सचिव प्रकाश उपाध्याय ग्राम पंचायत हिनौती से मांग की गई है वह किस बाबत की गई है?

- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
spot_img
spot_img