Tuesday, December 6, 2022
Homeप्रमुख खबरेंगाय को गाड़ी में बांधकर घसीटा, चमड़ी निकली लहूलुहान कर लावारिस छोड़ा,मामला...

गाय को गाड़ी में बांधकर घसीटा, चमड़ी निकली लहूलुहान कर लावारिस छोड़ा,मामला थाना गढ़ क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बर्रेही का

घायल गाय के शरीर मे हुए बड़े घाव, इलाज के बाद भी बचना मुश्किल।

लालगांव चौकी में शिकायत देकर एफआईआर की मांग।

दिनांक 27 जुलाई 2022 रीवा मध्य प्रदेश :

रीवा मध्य प्रदेश में एक बार फिर भीषण पशु क्रूरता का मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार थाना गढ़ क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बर्रेही में किसी गुड्डा नामक ग्राम अटरिया निवासी व्यक्ति का नाम सामने आ रहा है। बताया जा रहा है की गुड्डा और उसके साथियों के द्वारा गाय को गाड़ी में बांधते हुए घसीटते हुए लाकर ग्राम बर्रेही में पूर्व जिला पंचायत सदस्य बृजेश सिंह के घर के आसपास छोड़ दिया गया था। चश्मदीदों ने बताया है कि पशु क्रूरता करने वाला व्यक्ति गाड़ी से घसीटता हुआ गाय को लाया और तत्काल छोड़कर भाग निकला। जब तक लोग वहां पर इकट्ठे होते तब तक वह जा चुका था। मामले की जानकारी राहगीर अभिषेक नामक व्यक्ति ने सामाजिक कार्यकर्ता शिवानंद द्विवेदी को दी जिसके बाद उनके द्वारा जिला कलेक्टर रीवा मनोज पुष्प जिला पंचायत सीईओ स्वप्निल वानखेडे सहित संबंधित गढ़ क्षेत्र के वेटेरिनरी सर्जन विवेक मिश्रा एवं डिप्टी डायरेक्टर पशु चिकित्सा विभाग राजेश मिश्रा को सूचित करते हुए इलाज और अग्रिम कार्यवाही की मांग की गई जिसमें गाय को सुरक्षित तौर पर एंबुलेंस के द्वारा रीवा भेजे जाने और सही उपचार किए जाने की मांग शामिल थी। लेकिन अभी तक निर्दई प्रशासनिक अधिकारियों के द्वारा कोई भी ऐसी व्यवस्था नहीं की गई जिसके आधार पर उस गाय का जीवन बचाया जा सके। गढ़ क्षेत्र के वेटरनरी सर्जन विवेक मिश्रा के द्वारा गो सेवक को भेजकर इंजेक्शन और काम चलाऊ मलहम पट्टी की गई है। हालांकि मामले में शहडोल क्षेत्र के अटल कामधेनु गौ सेवा संस्थान से भी संपर्क किया जा रहा है जिन्होंने गाय का इलाज करने हेतु अपनी सहमति व्यक्त की है लेकिन बताया गया रीवा से शहडोल गाय को कैसे पहुंचाया जाए इस विषय पर प्रयास किए जा रहे हैं।

सामाजिक कार्यकर्ता शिवानंद द्विवेदी के द्वारा बताया गया कि उन्होंने संबंधित लालगांव चौकी प्रभारी संजीव शर्मा को पशु क्रूरता निवारण अधिनियम एवं मध्य प्रदेश गोवंश वध प्रतिषेध अधिनियम सहित आईपीसी की धारा 429 के तहत मामला दर्ज करने के लिए माग की है। परंतु जानकारी के अनुसार अब तक आरोपियों के विरुद्ध एफ आई आर दर्ज होने की जानकारी प्राप्त नहीं हो सकी है। गाय को जिस प्रकार अमानवीय ढंग से गाड़ी में बांधकर घसीटते हुए उसकी चमड़ी निकालते हुए गहरे घाव करते हुए निर्दयता पूर्वक छोड़ दिया गया है उससे समाज में गोवंशों के प्रति श्रद्धा रखने वाले और आस्था रखने वाले लोगों के मन में गहरा आघात लगा है और सभी ने ऐसे अपराधियों के विरुद्ध तत्काल कड़ी से कड़ी कार्यवाही की मांग की है।

- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
spot_img
spot_img