Sunday, February 5, 2023
Homeछत्तीसगढ़प्रदेश में बच्चियां और आम नागरिक असुरक्षित,अपराधी बेख़ौफ़, क़ानून को दिखा रहे...

प्रदेश में बच्चियां और आम नागरिक असुरक्षित,अपराधी बेख़ौफ़, क़ानून को दिखा रहे ठेंगा-कोमल हुपेंडी

कांग्रेस ने नवा छत्तीसगढ़ तो नहीं प्रदेश को अपराधगढ़’ बना दिया-कोमल हुपेंडी, प्रदेश अध्यक्ष, आप

रायपुर,17 दिसंबर 2022। आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी ने आयोजित प्रेसवार्ता में राज्य की कांग्रेसनीत भूपेश बघेल सरकार पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि राज्य सरकार लॉ एंड आर्डर पर पूरी तरह विफल हो चुकी है। नवा छत्तीसगढ़ गढ़ने की बातें करने वाली कांग्रेस ने प्रदेश को ‘अपराधगढ़’ बना दिया है। छत्तीसगढ़ में अपराध पिछले 4 सालों से चरम पर है।

श्री हुपेंडी ने हाल ही की रायपुर के सड्डू की निंदनीय घटना पर कहा कि नाबालिग बच्ची के घर के पास ही रहने वाले 14 साल के नाबालिग ने बच्ची से दुष्कर्म किया और उसके बाद हत्या कर झाड़ियों में लाश फेंक दी थी। फिर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। नाकाम पुलिस प्रशासन को घटना के 7 दिन बाद लाश घर से 500 मीटर दूर मिली थी।

वहीं पिछले माह आम आदमी पार्टी का प्रतिनिधि मंडल ने गृहमंत्री को ज्ञापन दिया था मामले में धरसींवा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले ग्राम निमोरा की कक्षा 6 वीं की छात्रा का शव धनेली के शीतला तालाब में तैरते मिली थी जबकि छात्रा की मौत कैसे व किस परिस्थितियों में हुई यह जानकारी पुलिस अभी तक नही दे पा रही है। पिछले माह ही नारायणपुर में आम आदमी पार्टी की ओर से जब 4 बच्चियों के गायब होने कि सूचना स्थानीय पुलिस को दी तो 4 बच्चियों की जगह दूसरे राज्य से 16 बच्चियां मिलीं थीं।

उन्होंने कहा कि पिछले 4 सालों से प्रदेश की हजारों नाबालिग और बालिग बच्चियां लापता हैं। नाबालिग बच्चियों की गुमशुदगियों में छत्तीसगढ़ में रायपुर पहले स्थान पर और जबकि मुख्यमंत्री और गृहमंत्री का क्षेत्र दुर्ग दूसरे स्थान पर है।
हाल ही में मुख्यमंत्री के गृह क्षेत्र अमलेश्वर में एक ज्वेलर्स व्यापारी की दिन दहाड़े हत्या हो गयी थी। वहीं पिछले साल राजनांदगाँव ज़िले के अंबागढ़चौकी के एक गाँव में 05 वर्ष की एक मासूम बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म की घटना हुई थी। 2 वर्ष पहले मुख्यमंत्री के गृह क्षेत्र में अमलेश्वर में 5 लोगों का अंधा क़त्ल हुआ था, प्रदेश की खासकर राजधानी रायपुर की यातायात व्यवस्था देश में प्रदेश की राजधानीयों में घटिया स्तर पर नंबर वन है सड़क दुर्घटनाओं में छत्तीसगढ़ देश में पहले नंबर पर है। नारी सशक्तिकरण और सम्मान की रक्षा के सरकारी दावे खोखले साबित हो रहे हैं और प्रदेश में मासूम बच्चियों और आम जन असुरक्षित है।

आप प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि पिछले एक साल में तो प्रदेश सरकार अपराधों पर नियंत्रण के मोर्चे पर बुरी तरह विफल साबित हुई है और प्रदेश के अमूमन सभी इलाकों में दुष्कर्म, सामूहिक बलात्कार और महिलाओं की हत्या के मामले तेज़ी से बढ़े हैं। प्रदेश में लगातार बढ़ रहे अपराधों ने प्रदेश को शर्मसार कर रखा है और प्रदेश सरकार सियासी नौटंकियों में ही मशगूल है। जबसे कांग्रेस की सरकार प्रदेश में सत्तारूढ़ हुई है, अपराधियों का दुस्साहस चरम पर पहुँच गया है और उनमें क़ानून के राज का ज़रा भी ख़ौफ़ नहीं रह गया है। अब ऐसा कोई अपराध बाकी नहीं रह गया है, जो अब छत्तीसगढ़ में अंज़ाम नहीं दिया जा रहा हो। रेत, शराब, कोल, ज़मीन माफियाओं का आतंक तो सिर चढ़कर बोल ही रहा है, रंगदारी, अपहरण, लूट, मारपीट, चाकूबाजी जैसे अपराधों के चलते प्रदेश में समानांतर आतंकराज क़ायम हो चला है और प्रदेश के सत्तारूढ़ दल के राजनीतिक संरक्षण में अपराधी बेख़ौफ़ क़ानून के राज को ठेंगा दिखला रहे हैं।

कोमल हुपेंडी ने कहा कि सत्ताधारी कांग्रेस सत्ता के अहंकार में चूर हो गयी है और उसे प्रदेश में बढ़ रहे अपराध नहीं दिख रहें हैं। विफल सरकार के खिलाफ आम आदमी पार्टी जल्द ही आंदोलन करेगी।

Most Popular

- Advertisment -spot_img