Tuesday, December 6, 2022
Homeछत्तीसगढ़भनपुरी में रामचरितमानस की भव्य शोभायात्रा निकली

भनपुरी में रामचरितमानस की भव्य शोभायात्रा निकली

प्रभु श्री राम का नाम कल्पवृक्ष के समान है: आचार्य हरि तिवारी महाराज जी

रायपुर। भनपुरी में ठाकुर परिसर में आयोजित नौ दिवसीय श्री राम चरित्र मानस यज्ञ समारोह के तहत आज भनपुरी में श्री रामचरितमानस पोथी की भव्य शोभायात्रा अयोध्या से पधारे आचर्य श्री हरि तिवारी महाराज जी के मार्गदर्शन में निकाली गई इस सार्वजनिक कार्यक्रम में पूरे भनपुरीवासी एवं आसपास के क्षेत्रों के श्रद्धालुगण् बड़ी संख्या में शामिल हुए! सैकड़ों सौभाग्यवती महिलाओं ने मंगल कलश धारण कर श्री राम नाम का उच्चारण करते हुए एवं मंगल गीतों का गायन करते हुए आगे आगे चल रही थी! सर्वप्रथम में छठवां तालाब में वरुण देवता का आवाहन कर मंगल कलश में जल धारण किया गया छठवां तालाब से शोभायात्रा महामाया मंदिर, रामेश्वर नगर,पुरानी बस्ती,भगत सिंह चौक, धनलक्ष्मी नगर, विक्रम चौक, बाजार पारा आदि क्षेत्रों का भ्रमण करते हुए कथा स्थल पर पहुंची! अयोध्या से पधारे प्रसिद्ध रामायणी श्री हरि तिवारी जी महाराज भव्य रथ में विराजित थे ! अगल -बगल में अनेक विद्वान, वैदिक ब्राह्मण संघ ध्वनि करते हुए श्री राम का जयघोष करते हुए आगे आगे चल रहे थे! उनके पीछे श्रद्धालुओं का हुजूम जय श्री राम का नारा लगाते हुए चल रहा था!शोभायात्रा में अनेक विद्वान ब्राह्मण मानस की चौपाइयों तथा श्री राम रक्षा स्त्रोत का पाठ करते हुए चल रहे थे! भनपुरी का पूरा वातावरण राममय हो गया था! वही रामेश्वर नगर में भनपुरी मुस्लिम समाज के भाइयों ने शोभा यात्रा का पुष्प वर्षा कर भव्य स्वागत किया! शोभा यात्रा जिस भी घर के आगे से निकलती घर वाले पोथी भगवान की आरती उतारकर श्रीफल भेंट कर उसका स्वागत कर रहे थे ! भव्य शोभायात्रा में शामिल जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष श्री पंकज शर्मा, भाजपा जिला अध्यक्ष श्री जयंती भाई पटेल, भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्री अमित साहू, पूर्व पार्षद नागभूषण राव, पूर्व पार्षद कृष्णा साहू ने रामायणी श्री हरि तिवारी महाराज का शाल एवं श्रीफल भेंट कर उनका स्वागत किया एवं आशीर्वाद ग्रहण किया! आज की कथा में प्रसिद्ध रामायणी श्री हरि तिवारी महाराज ने कहा कि प्रभु श्री राम का नाम कल्पवृक्ष के समान है!कल्पवृक्ष का अपना कोई फल नहीं होता किंतु उसकी छाया में जाकर व्यक्ति जिस फल की कामना करता है वह उसे प्राप्त हो जाता है! भगवान श्री राम खुद अपने नाम का बखान करने में असमर्थ है! भगवान शिव रात-दिन इसी श्री राम नाम का जप करते रहते हैं! श्री राम का नाम महामंत्र है! वानारसी में भगवान शिव प्रत्येक व्यक्ति के कान में यही मंत्र सुना कर व्यक्तियों को भवसागर से मुक्त कर देते हैं! भारत में जितने भी संत हुए हैं सबने राम नाम की महिमा गाई है! भक्ति मति मीराबाई भले ही कृष्ण भगवान की भक्त थी पर वह भी कहती “मनवा राम नाम रस पीजावो! संत मलूक दास जी महाराज कहते हैं राम रटो, राम रटो, राम रटो बावरे ! संत कबीरदास जी कहते हैं धनवंता कोई जानही जाको राम नाम धन होय! महान संत एवं गुरु श्री नानक देव जी ने भी राम नाम की महिमा गाई है! संत प्रवर ले राम नाम की महिमा का बखान करते हुए कहा कहा कि जिस प्रकार भगवान अनंत हैं उनकी कथा अनंत है!इस सार्वजनिक श्री राम कथा को सफल बनाने में, राजेश मिश्रा,पूर्व पार्षद घासीराम साहू,श्री जयशंकर तिवारी,श्री रुकुम लाल वर्मा,जीत सिंह, कमलेश मिश्रा,चंदन पाठक,अजय सिंह, शिवशंकर सिंह,पंडित सदानंद मिश्रा, पं.पूरन दुबे, मनोज वर्मा,रघु दयाल वर्मा, विक्रम ठाकुर, अशोक पाल, अमित सरकार, लक्ष्मीकांत तिवारी, चेतन यादव, शेखर साहू, विपिन शुक्ला,बृजलाल धीवर, बालकृष्ण कोठारी, सीताराम राव, राकेश साहू, गोलू शर्मा,अरविंद सिंह,राकेश मिश्रा,सुभाष कुंडू,विपिन मिश्रा ,राजेश श्रीवास,कुशाल साहू, दीनू साहू राजा मिश्रा, रोशन मिश्रा,सहित भनपुरी वासी का सहयोग सराहनीय रहा!
कथा का समय दोपहर 2:00बजे से साय 6:00 बजे तक है !
यह जानकारी मीडिया प्रभारी अजय साहू एवं रामकृष्ण सेन ने दी है !

- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
spot_img
spot_img