Saturday, December 10, 2022
Homeछत्तीसगढ़दिव्यांगों के प्रति दया नहीं प्रोत्साहन की भावना होनी चाहिए - प्रमोद...

दिव्यांगों के प्रति दया नहीं प्रोत्साहन की भावना होनी चाहिए – प्रमोद दुबे

00 मूक-बधिरों से संवाद के लिए साइन लैंग्वेज की थोड़ी बहुत जानकारी जरूरी
00 साइन लैंग्वेज डे पर अर्पण दिव्यांग पब्लिक स्कूल में कार्यक्रम


रायपुर। साइन लैंग्वेज डे पर शुक्रवार को अर्पण दिव्यांग पब्लिक स्कूल में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर रायपुर नगर निगम के सभापति प्रमोद दुबे ने कहा कि हम सभी को साइन लैंग्वेज की थोड़ी बहुत जानकारी होनी चाहिए ताकि हम मूक-बधिरों से संवाद कर सकें। श्री दुबे ने कहा कि दिव्यांगों के प्रति हमारे मन में दया की भावना नहीं बल्कि उनको प्रोत्साहित करने की भावना होना चाहिए। श्री दुबे ने कहा कि मूक-बधिरों को समाज की मुख्यधारा में लाना हम सभी का दायित्व है।
इस अवसर पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता नितीन भंसाली ने कहा कि देव तुल्य इन बच्चों के पास आकर मन को सुकून मिला है। श्री भंसाली ने कहा कि भगवान ने इन्हें सुनने और बोलने की क्षमता नहीं दी है पर इनकी बौद्धिक क्षमता और वील पॉवर अद्भुत है। डॉ.राकेश पांडेय ने साइन लैंग्वेज के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि हमें दिवयांगों के प्रति समाज के नजरिए को बदलना होगा। लोगों को जागरूक कर इन बच्चों को स्वावलंबी बनाना होगा। स्कूल के शिक्षक विशाल ने उपस्थितजनों को साइन लैंग्वेज में ए से जेड तक किस तरह कहते हैं समझाया। इस अवसर पर कांग्रेस नेता अमर गिदवानी ने बच्चों को कापी प्रदान किए। रोटरी क्लब के अध्यक्ष भरत डागा और राहुल ने बताया कि नवरात्रि पर एक और दो अक्टूबर को इन बच्चों के साथ विशेष रास गरबा का आयोजन किया गया है। यह आयोजन अर्पण दिव्यांग पब्लिक स्कूल के प्रांगण में में रोटरी क्लब द्वारा शाम साढ़े सात बजे से रात्रि नौ बजे तक किया जाएगा। रायपुर ब्राइट फाउंडेशन के अध्यक्ष प्रदीप गोविन्द शितूत ने बच्चों के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए हर संभव मदद का आश्वासन दिया। छत्तीसगढ़ चैंबर ऑफ कॉमर्स के महिला विंग की अध्यक्ष मधु अरोरा ने कहा कि इन बच्चों को निशुल्क शिक्षा प्रदान करना पुण्य का कार्य है इसके लिए अर्पण कल्याण समिति बधाई के पात्र हैं। कार्यक्रम का संचालन सीमा छाबड़ा ने किया। अर्पण कल्याण समिति के अध्यक्ष प्रकाश शर्मा ने आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम के दौरान मधु बहादुर सिंह, संजय जय सिंह, हिरानंद दुरानी, दीपक खेमानी, खुशी खेमानी, कल्याणी देवी, हिना राव, कामनी जैन, सुरेन्द्र बैरागी समेत अनेक लोग उपस्थित थे।

- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
spot_img
spot_img