Wednesday, November 30, 2022
Homeछत्तीसगढ़हिंदी भाषा भूषण की मानद उपाधि मिली.. उर्मिला को

हिंदी भाषा भूषण की मानद उपाधि मिली.. उर्मिला को

रायपुर। छत्तीसगढ की साहित्यकार उर्मिला देवी उर्मि को हिंदी भाषा की अनुपम सेवा के लिए देश की प्रतिष्ठित संस्था.. साहित्य मंडल नाथद्वारा राजस्थान.. द्वारा हिंदी भाषा भूषण की उपाधि से विभूषित किया गया है ।हिंदी पखवाडे के अवसर पर संस्था द्वारा नाथद्वारा में 14 से 16 सितं. 22 तक .. हिंदी लाओ,देश बचाओ.. शीर्षक से आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हिंदी भाषा के महत्व और प्रचार-प्रसार हेतु आलेख वाचन तथा कविता पाठ के सत्रों के साथ साथ विकलांग विमर्श पर भी सत्रों का आयोजन हुआ । हिंदी सेवियों को समर्पित अत्यंत भव्य सम्मान समारोह में रायपुर, छत्तीसगढ़ की साहित्यकार उर्मिला देवी उर्मि को श्री मोतीलाल जी राठी स्मृति सम्मान २०२१ और दो हजार एक सौ की धनराशि, शॉल , श्रीफल , रेशमी उत्तरीय , मेवाड़ी पगड़ी, मुक्ता माला के साथ हिंदी भाषा भूषण सम्मान से अलंकृत किया गया । उल्लेखनीय है कि पिछले महीने ही वैश्विक आयोजन में शानदार सहभागिता के लिए गृहस्वामिनी अंतरराष्ट्रीय पत्रिका द्वारा उर्मि को विरुदावली भारत रत्न सम्मान से विभूषित किया गया था । छत्तीसगढ की कवयित्री उर्मि को मिली मानद उपाधि एवं सम्मान पर प्रदेश के साहित्यकारों में हर्ष की लहर है । इसी कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के जाने माने साहित्यकार श्री विनायक पाठक एवं श्री दिनेश रोहित चतुर्वेदी को भी सम्मानित किया गया ।

विशेष उल्लेखनीय है कि हिंदी की सेवा हेतु कार्यक्रमों के सुंदर संयोजन, उत्तम आयोजन एवं श्रेष्ठ मंच- संचालन के लिए पिछले वर्षों में उर्मि को भारतवर्ष के साथ ही इंडोनेशिया, मलेशिया , थाईलैंड , हॉन्ग कोंग, मकाउ मॉरीशस , वियतनाम, कंबोडिया , दुबई आदि देशों के मंचों पर भी सम्मानित किया गया है और अखिल भारतीय गोरक्षा महासंघ छत्तीसगढ़ की प्रदेश अध्यक्ष, अखिल भारतीय राष्ट्रीय कवि संगम छत्तीसगढ़ की प्रांतीय महामंत्री , गृह स्वामिनी अंतरराष्ट्रीय की नेशनल एंबेसेडर, दी अरूज़ फाउंडेशन की उपाध्यक्ष तथा अन्य कई साहित्यिक- सामाजिक संस्थाओं में महत्वपूर्ण दायित्व संभालते हुए समाज की बेहतरी के लिए वे सराहनीय कार्य कर रही हैं ।

- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
spot_img
spot_img