Tuesday, December 6, 2022
Homeछत्तीसगढ़भाजपा का विरोध सिर्फ दिखावा, बताये 15 साल में कितना रोजगार दिया...

भाजपा का विरोध सिर्फ दिखावा, बताये 15 साल में कितना रोजगार दिया – वीरेंद्र पवार, रायपुर जिला अध्यक्ष यूथ

2500 बेरोजगारी भत्ता देने के वादे से मुकर रही प्रदेश कांग्रेस सरकार – तेजेन्द्र तोड़ेकर,प्रदेश अध्यक्ष यूथ।

रायपुर, 24 अगस्त 2022। आम आदमी पार्टी के यूथ विंग के प्रदेश अध्यक्ष तेजेंद्र तोड़ेकर ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा और कांग्रेस मिलकर छत्तीसगढ़ के युवाओं के साथ छल कर रही हैं, चुनाव के पूर्व कांग्रेसी व युवा कांग्रेस द्वारा गांव गांव में जाकर युवाओं को 2500 बेरोजगारी भत्ता देने का वादा किया गया था पर कांग्रेस के मंत्री छत्तीसगढ़ में बेरोजगारी भत्ता को लेकर बयान देते हैं कि उन्होंने युवाओं को 2500 देने का कोई वादा ही नहीं किया था, वादा करने के बावजूद एक मंत्री का ऐसा बयान दुर्भाग्य जनक है, काँग्रेस ने चुनाव के पूर्व तो वादा कर दिया लेकिन जब बेरोजगारी भत्ता देने की बारी आई तो प्रदेश के युवाओं को धोखा देते हुए वादा नहीं करने की बात कर रहे हैं, कांग्रेस सरकार ने ना तो प्रदेश के युवाओं को रोजगार दिया है ना तो बेरोजगारी भत्ता दे रहे हैं प्रदेश के रोजगार कार्यालय में लगभग 20 लाख पंजीकृत बेरोजगार हैं इसके अलावा लाखों ऐसे युवा हैं जिनका रोजगार कार्यालय में पंजीयन नहीं है छत्तीसगढ़ में बेरोजगारी चरम पर है ऐसे में मंत्री का यह बयान युवाओं को निराश करने वाला है इससे साफ पता चलता है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार युवा विरोधी सरकार है, जहाँ तक भाजपा के रोजगार के मुद्दे पर आंदोलन करने की बात है तो भाजपा के लोगों को रोजगार की बात करने का नैतिक अधिकार नहीं है 15 साल में सिर्फ भाजपा ने छत्तीसगढ़ के युवाओं के साथ धोखा किया है अगर भाजपा ने रोजगार दिया होता तो छत्तीसगढ़ के युवा उन्हें सत्ता से नहीं हटाते पिछले साढे 3 सालों से भाजपा घर में बैठी थी जब चुनाव आ रहा है तब यह फिर से युवा हितेषी होने का नाटक कर रहे हैं लेकिन छत्तीसगढ़ के युवा इसको समझते हैं एक तरफ पूरे देश में नौकरियां खत्म हो रही है पूरे देश में लोग रोजगार की मांग कर रहे हैं ऐसे में भाजपा को रोजगार के लिए आंदोलन करना शोभा नहीं देता अगर उन्हें आंदोलन करना ही है तो केंद्र में बैठी मोदी सरकार के खिलाफ करें जिसने दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था ऐसे में भाजपा के जो केंद्रीय नेतृत्व यहां छत्तीसगढ़ में आकर आंदोलन को समर्थन कर रहे हैं उन्हें पहले दिल्ली में ही केंद्र सरकार के खिलाफ आंदोलन करना चाहिए,

वीरेंद्र पवार जिला अध्यक्ष ने कहा छत्तीसगढ़ में रोजगार की कोई कमी नहीं है छत्तीसगढ़ में संसाधन की कमी कोई कमी नहीं है कमी है तो सिर्फ एक साफ नियत वाली पार्टी की, भाजपा और कांग्रेस सिर्फ राजनीति करने के लिए छत्तीसगढ़ के युवाओं को गुमराह करने के लिए आंदोलन करते हैं अगर उन्हें वास्तविक में छत्तीसगढ़ के युवाओं की चिंता होती तो पहले 3 साल छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने राज किया बाद में 15 साल भाजपा ने राज किया उसके बाद वर्तमान में भी 4 साल से प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है, अगर वह चाहते तो छत्तीसगढ़ के युवाओं के हाथ में रोजगार होता लेकिन कहीं न कहीं युवा आज बेरोजगारी के दंश में नशे की तरफ बढ़ रहे हैं वर्तमान में दोनों पार्टियाँ युवाओं को गुमराह कर रही है ।

- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
spot_img
spot_img