Thursday, December 8, 2022
Homeछत्तीसगढ़कलिंगा विश्वविद्यालय परिसर 15 अगस्त 2022 को उत्साह के साथ मनाया गया...

कलिंगा विश्वविद्यालय परिसर 15 अगस्त 2022 को उत्साह के साथ मनाया गया 76वां स्वतंत्रता दिवस

रायपुर. कलिंगा विश्वविद्यालय परिसर नया रायपुर में सोमवार 15 अगस्त 2022 को बड़े उत्साह के साथ 76वां स्वतंत्रता दिवस मनाया गया। यह उत्सव ‘‘आजादी का अमृत महोत्सव’’ का हिस्सा था, जो की प्रगतिशील भारत और मानव प्रयास के सभी क्षेत्रों में भारतीयों द्वारा उल्लेखनीय उपलब्धियां की 75वीं वर्षगांठ मनाने की एक पहल है।

मुख्य अतिथि कलिंगा विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ आर श्रीधर थे, उन्होंने डॉ आशा अंभईकर, डीन स्टूडेंट्स वेलफेयर, अन्य सभी विभागाध्यक्ष संकाय सदस्यों और बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं की उपस्थिति में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। शहीदों को भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई। अपने संबोधन में डॉ. श्रीधर ने जोर देकर कहा कि आजादी के बाद भारत ने खुद को मज़बूत लोकतंत्र वाले देश के रूप में साबित किया है। 1947 में स्वतंत्रता के बाद कुछ देशों की राय थी कि राज्य अगले 10 वर्षों में अलग-अलग देशों में विभाजित हो जाएंगे, क्योंकि 1000 से अधिक भाषाएँ और बोलियाँ थीं। लोगों को लोकतंत्र का ज्ञान नहीं था और साक्षरता दर 30 प्रतिशत थी। भारत ने साबित कर दिया है कि हम लोकतांत्रिक हैं।

उन्होंने जोर देकर कहा कि देश में कभी भी मंदी नहीं आ सकती क्योंकि हमारे देश में गेहूं उगाया जा रहा है और पूरा देश भोजन के लिए दूसरे देशों पर निर्भर नहीं है। इसलिए भारतीय अर्थव्यवस्था मंदी रहित साबित हुई। भारतीयों ने साबित कर दिया है कि विभिन्न भाषा और विविधता के बावजूद भारतीय एकजुट हैं। यह अनेकता में एकता की सच्ची तस्वीर है। उन्होंने कहा कि हमें लोकतंत्र की शपथ लेनी चाहिए। प्रत्येक भारतीय को बोलने का अधिकार, अभिव्यक्ति का अधिकार, धर्म का पालन करने का अधिकार है, यह सब हमारे नेताओं का उपहार है जिन्होंने देश का विकास किया। लोकतंत्र को जिंदा रखना हमारी जिम्मेदारी है और हमें शपथ लेकर देश के लिए कुछ करना चाहिए। उन्होंने कहा कि ‘‘आप जो भी काम कर रहे हैं, उसे पूरे मन से करें’’।

फैशन डिजाइनिंग की प्राध्यापिका डॉ स्मिता प्रेमानंद ने दर्शकों के सामने देशभक्ति की कविता पेश की और ‘‘हर घर तिरंगा आंदोलन’’ का संदेश दिया। भूगोल विभाग के प्राध्यापक डॉ ए राजशेखर ने देशभक्ति पर कविता प्रस्तुत की। उन्होंने देश की आजादी के लिए लड़ने वाले स्वतंत्रता सेनानियों को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की और लगातार देश के सीमांओं की रक्षा करने वाले सैनिकों को नमन किया ।

डॉ अभिषेक त्रिपाठी, डीन ऑफ कॉमर्स एंड मैनेजमेंट ने चटगांव के एक स्कूल शिक्षक श्री सूर्य सेन और स्वतंत्रता के बाद हमारे राजनीतिक नेताओं द्वारा किए गए योगदान पर एक प्रेरक भाषण दिया। कलिंगा विश्वविद्यालय सभागार में राष्ट्रीय ध्वज धारण करने वाले छात्रों ने सारे जहां से अच्छा हिंदुस्तान हमारा गीत प्रस्तुत किया।

डॉ आशा अंभाईकर, डीन स्टूडेंट्स वेलफेयर ने धन्यवाद प्रस्ताव रखा। समारोह की संचालिका श्रीमती जैस्मीन जोशी, प्राध्यापिका, कॉमर्स एंड मैनेजमेंट रही, समारोह के दौरान डॉ ए विजयानंद, डॉ स्मिता प्रेमानंद, डॉ कोमल गुप्ता, श्री ओमप्रकाश देवांगन, डॉ संजीव कुमार यादव, श्री साइमन जॉर्ज, लेफ्टिनेंट विभा चंद्राकर, श्रीमती प्रीति मनहर, श्री राजकुमार दास, श्री शेख अब्दुल कादिर, श्री यूनुस रिजवी, श्री हर्ष खरे, श्री महेश साफी, श्री तोशन तारक, श्री उत्तम तारोन और बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं उपस्थित थे। कार्यक्रम के अंत में मिष्ठान वितरण किया गया।

- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
spot_img
spot_img