Tuesday, December 6, 2022
Homeप्रमुख खबरेंMP Breaking: जेई डीई रिश्वत मामले में कटरा डीसी के किसानों ने...

MP Breaking: जेई डीई रिश्वत मामले में कटरा डीसी के किसानों ने दवाब देकर शिकायत वापस लेने का लगाया आरोप

 

कहा रिश्वत मांगने के मामले में ऊपर से अधिकारी दवाब लगाकर ट्रांसफॉर्मर न बदलने की दे रहे धमकी।

दिनाँक 08 अगस्त 2022।  रीवा  जिले के त्योंथर बिजली डिवीज़न में कटरा डीसी के कई ग्रामों में जले हुए ट्रांसफॉर्मर बदलने के एवज में बिजली अधिकारियों द्वारा चंदा कर रिश्वत देने के मामले में एक नया मोड़ आ गया है।

बताया गया है कि पिछले दिनों लालगांव और कटरा के प्रभारी जेई संजय गुप्ता द्वारा अपने बचाव में वीडियो जारी कर 19 ग्रामीणों पर कुल 48 हज़ार रूपये का बिजली बिल बकाया बताया गया था। जबकि ग्रामीण उपभोक्ताओं का कहना है कि यह बहुत पुराना बिल है और बिजली अधिकारी रिश्वत मामले को दबाने और दबाब बनाने के उद्देश्य से ऐसी अफवाह फैलाई जा रही है।

उपस्थित ग्रामीण अभिनेष पटेल अरुणेंद्र पटेल हिन्छलाल पटेल और कुसुमकली पटेल और मणिराज पटेल आदि ने बताया कि यदि दूसरे प्रकरणों को देखा जाय तो उसके मुकाबले उनका बकाया बहुत कम और लगभग 20 से 25 हज़ार के लगभग है जबकि उसमे अभी ट्रांसफॉर्मर जलने वाले महीने का भी आधा से अधिक बिल सम्मिलित है जिसे वह देने के लिए इसलिए बाध्य नही हैं क्योंकि ग्रामीणों ने बिजली का 2 माह से कोई उपयोग ही नही किया। उन्होंने तो यहां तक कहा कि वह बकाया बिल भी देने के लिए तैयार हैं लेकिन सबसे पहले उनका ट्रांसफॉर्मर लगाया जाए और साथ मे दोषी डिविजनल इंजीनियर सुशील यादव, अस्सिटेंट इंजीनियर जवा गणेश अकोदिया और जूनियर इंजीनियर संजय गुप्ता पर कार्यवाही की जाए।

अब यदि देखा जाय तो ट्रांसफॉर्मर जलने के बाद उसे बदलने में आनाकानी करने और रिश्वत की माग का यह अकेला मामला नही है। सम्पूर्ण रीवा जिले में लगभग एक हज़ार के लगभग ट्रांसफॉर्मर फैल हैं और उन क्षेत्रों में बिजली पूरी तरह से बाधित है। लेकिन बिजली विभाग हर जगह मनमानी करने में उतारू है और ग्रामीणों और किसानों को गलत बिजली बिल के नाम पर टार्चर कर रहा है। ऐसे में सोरहवा और बड़ोखर ग्राम के ग्रामीणों ने तो बिजली अधिकारियों के नाम से मुर्दाबाद के नारे भी लगाए हैं और दोषियों पर कार्यवाही करते हुए तत्काल निलंबित किये जाने की माग की है।

- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
spot_img
spot_img