Saturday, December 10, 2022
Homeप्रमुख खबरें“आज़ादी की 75 वी वर्ष गाँठ पर तिरंगा स्वीकार करना हम सभी...

“आज़ादी की 75 वी वर्ष गाँठ पर तिरंगा स्वीकार करना हम सभी की विजय – लालजी देसाई



31 दिसम्बर 1929 को पं नेहरू ने लाहोर रावी नदी के तट में पूर्ण स्वराज्य का संकल्प लिया था -चन्द्र प्रकाश बाजपेयी


आबू रोड (सिरोही)। अखिल भारतीय कांग्रेस सेवा दल का तीन दिवसीय “विशेष प्रशिक्षण शिविर” माउंट आबू (सिरोही) में स्थित ब्रह्मा कुमारी मानसरोवर मे सम्पन्न हुआ। तीन दिवसीय विशेष प्रशिक्षण शिविर की शुरुआत माउंट आबू में सेवादल के राष्ट्रीय मुख्य संगठक श्री लाल जी देसाई द्वारा ध्वजारोहण से प्रारम्भ हुई । उन्होंने अपने उद्दबोधन में कहा आज़ादी की 75 वर्ष गाँठ पर तिरंगा स्वीकार करना हम सभी देश वासियों की विजय है । उन्होंने कहा देश का झण्डा तिरंगा ,न एक रंगा,न दो रंगा । प्रशिक्षण शिविर में देश भर के 700 सेवादल पदाधिकारी कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। शिविर में होने वाले विधानसभा चुनाव एवं आजादी के स्वर्णिम 75 वर्ष पूरे होने पर भारत जोड़ो पद यात्रा को लेकर महत्वपूर्ण चर्चा हुई । यह पद यात्रा 3700 किलोमीटर लंबी दूरी तय करेगी एवं अक्तूबर माह से प्रारम्भ होगी । कश्मीर से कन्याकुमारी तक चलने वाली यह पद यात्रा 150 दिनों में पूर्ण होगी। प्रशिक्षण शिविर का उद्देश्य कांग्रेस की विचारधारा के अनुरूप कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित करना और भविष्य में आने वाली हर चुनौतियों के बारे में अवगत कराना है। शिविर में बीते एक साल में कांग्रेस सेवादल की ओर से किए गए कार्यक्रमों की समीक्षा के साथ आगामी एक साल की रूपरेखा भी तैयार की गयी।
वेस्ट ज़ोन प्रभारी शिविर संचालक चन्द्र प्रकाश बाजपेयी पूर्व विधायक ने श्री लालजी देसाई जी से ध्वजारोहण करवाया । उन्होंने कहा कि 31 दिसम्बर 1929 को कांग्रेस अधिवेशन लाहोर की अध्यक्षता करते हुये पं जवाहर लाल नेहरू ने पूर्ण स्वराज का संकल्प लेकर तिरंगा फहराया था । इसी तिरंगे को लेकर लाखों लोगों की क़ुर्बानी से देश आज़ाद हुआ । अंग्रेजो से पेंशन पाने वालो को आज वही तिरंगा झण्डा याद आया बधाई ।
शिविर के तीसरे दिवस गुजरात, हिमाचल प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैय्यारी को लेकर प्रशिक्षण शिविर में मंथन हुआ इन चुनावों में कांग्रेस सेवादल की क्या भूमिका पर भी चर्चा हुई । प्रशिक्षण शिविर के जरिए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस सेवादल को अलग-अलग टास्क दिए गए इसके अलावा जिन राज्यों में चुनाव होने हैं, वंहा चयनित सेवादल कार्यकर्ता को जिम्मेदारी दिये जाने की चर्चा हुई ।


ज्ञात हो प्रातः 6-00 बजे वन्दे मातरम् से प्रारम्भ यह शिविर रात्रि 10-00 बजे विश्राम लेता था । जिसमें देश के सभी राज्यों से भाग लेने वाले सभी पदाधिकारियों ने एक एक कर अपने सुझाव दिये । लगभग तीस घण्टे विचार विमर्श कर रूप रेखा बनाई गई ।इस विशेष प्रशिक्षण शिविर में अ भा मुख्य संगठक श्री लालजी देसाई जी के साथ सर्वश्री राष्ट्रीय पदाधिकारी वेस्ट ज़ोन प्रभारी चन्द्र प्रकाश बाजपेयी,राष्ट्रीय महासचिव लालजी प्रसाद मिश्रा मुंबई,डॉक्टर अमर जीत सिंह उत्तर ज़ोन प्रभारी, बलराम भदौरिया कर्नाटक प्रभारी,के के पांडेय मध्यप्रदेश,राजस्थान प्रभारी मधु गुरुम,प्रकाश भरतिया,गुजरात कल्पना भटनागर, संध्या पुरोहित,एस प्यारी जान उतराखंड,ज़फ़र बाबू चैनई,अशरफ़ भाई,गिरीशकुमार,सजीवन भाई,केरला,रेखा कश्यप हरियाणा, नरेंद्र बातिश,विष्णु शर्मा दिल्ली, मुंबई कंपाजी झाला,देवेंद्र शर्मा झारखण्ड,चैन सिंह सामले उड़ीसा,कमला प्रसाद यादव दादर नागर हवेली,सरफराज खान जम्मू कश्मीर, सी पी गौतम बिहार,एम सलाम,दुर्गा बहन बिहार,प्रदेश अध्यक्ष हेम सिंह शिखावत,जगदीश भाई,देश बन्धु,द्रोपती बहन, विवेक भटनागर,विजय पटेल,प्रगति बेन,जिमी भट,सतीश मनचंदा,विनोद गुप्ता,लीना फ़र्नाडिस,फूलनसिया बहन,सुनील कुमार,अरविंद्र पाल,अनुराग शर्मा,सुनीता ठाकुर,डॉ पूनम चौहान,सुनीता शर्मा,जुनेद भाई,दिनेश पांडेय,राजकुमारी रघुवंशी,धर्मेन्द्र भदौरिया,रमेश दिवेदी,विमल पाण्डेय,रुचि सिंह,संतोष पांडेय,राजेश गुप्ता,प्रियंका श्रीवास्तव,वत्सल मेहता,मनोज वर्मा,अन्नपूर्णा ध्रुव,नीरज त्यागी,अजय भण्डारी,रेणु रूहेला,शेख़ उस्मानी,अनिल जैन,बिलक़िस बहन,गंगाधर,सहित इस प्रशिक्षण शिविर में राजस्थान,हरियाणा,मध्यप्रदेश,,छत्तीसगढ़,,महाराष्ट्र,हिमांचल,उत्तरप्रदेश,पंजाब,उत्तराखंड,दिल्ली,बिहार,जम्मू कश्मीर,उड़ीसा,वेस्ट बंगाल,असम,मणिपुर.अण्डमान निकोबार,आँध्रप्रदेश,तेलंगाना,केरला,पंडिचेरी,केरला,चन्नई,आदि राज्यों के 700 की संखिया में सेवादल भाई बहन प्रशिक्षण लिए ।


- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
spot_img
spot_img